Tuesday, June 25, 2024

कलेक्टर श्री झा की पहल पर समूह की महिलाओं को मिल रहा स्वरोजगार का अतिरिक्त जरिया

Must read

- Advertisement -

स्वसहायता की महिलाओं ने जिले के छात्रावासों में एक महीने में ही लगभग 13 लाख रूपए की राशन आपूर्ति की

आजीविका संवर्धन हेतु कलेक्टर की विशेष पहल, जिले के 169 छात्रावासों में हुई राशन आपूर्ति

कोरबा,07 फरवरी 2023 :- कलेक्टर संजीव झा की जिले की महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ने और स्थानीय स्तर पर ही उन्हें रोजगार दिलाने की पहल से महिलाओं को रोजगार का अतिरिक्त जरिया प्राप्त हो रहा है। कलेक्टर श्री झा ने महिलाओं को स्वरोजगार से संलग्न करने के उद्देश्य से जिले के सभी आश्रम छात्रावासों में राशन सामान आपूर्ति करने के लिए समूहों को आश्रम छात्रावासों से लिंक करने के निर्देश दिए थे। इसी तारतम्य में समूहों द्वारा आश्रम छात्रावासों में राशन सामग्रियों की सप्लाई शुरू हो गई हैै। जिले की स्वसहायता समूहों ने एक माह में ही आश्रम छात्रावासों में लगभग 13 लाख रूपए की राशन आपूर्ति की है। विकासखण्ड करतला अंतर्गत ग्राम बरपाली के जय मां राधा स्वसहायता समूह ने एक माह में ही सर्वाधिक दो लाख 70 हजार 927 रूपए के राशन सामग्री आपूर्ति की है। राशन आपूर्ति के काम से महिला समूहों को रोजगार प्राप्त हो रहे हैं । साथ ही आश्रम छात्रावासों में स्थानीय और उच्च गुणवत्ता के राशन सामान पहुंच रहे हैं। राष्ट्रीय आजीविका मिशन बिहान के तहत जिले के 19 महिला स्वहसहायता समूहों द्वारा 169 प्री मैट्रिक छात्रावास में 12 लाख 91 हजार 486 रूपए की राशन सामग्री विक्रय करके आपूर्ति की गई है। जिसमें स्वहसहायता समूह को आर्थिक लाभ मिलेगा, जिससे ग्रामीण महिलाए खुश हैं।

कलेक्टर संजीव झा की पहल से राष्ट्रीय आजीविका मिशन बिहान के समूहों द्वारा आश्रम छात्रावासों में दैनिक उपयोग में लाये जाने वाली राशन सामग्री दाल, चांवल, तेल, नमक, चीनी, मिर्च-मसाले, हल्दी आदि की खरीदी कर सप्लाई की जा रही है। इसके लिए महिला समूहों द्वारा हसदेव रूरल मार्ट का संचालन किया जा रहा है। इन मार्ट के द्वारा समूह के सदस्यगण राशन सामग्रियों का आपूर्ति कर रहे हैं। राष्ट्रीय आजीविका मिशन बिहान के द्वारा इन स्वसहायता समूहों को व्यवसाय शुरू करने के लिए चक्रीय निधि, सामुदायिक निवेश कोष भी प्रदान किया गया है। इसके साथ ही समूहों को आवश्यकतानुसार बैंक से ऋण भी दिया गया है। समूहों को आर्थिक गतिविधि से जोड़ने हेतु संबंधित क्षेत्र के संकुल संगठन द्वारा इच्छुक समूहों को व्यवसाय हेतु प्रेरित किया जा रहा है।

इस संबंध में एनआरएलएम के अनुराग जैन ने बताया कि प्रथम चरण में स्वसहायता समूहों को राशन सप्लाई-बिक्री हेतु आश्रम छात्रावासों से जोड़ा गया है। द्वितीय चरण में मध्यान्ह भोजन एवं आंगनबाड़ी केंद्रों को जोड़ा जा रहा है।

श्री जैन ने बताया कि जनवरी माह में विकासखण्ड पाली अंतर्गत 06 समूहों ने 40 आश्रम-छात्रावास में तीन लाख 21 हजार 164, करतला अंतर्गत 35 छात्रावासों में एक समूह ने 02 लाख 70 हजार 927, कोरबा अंतर्गत तीन समूहों ने 39 छात्रावासों में 02 लाख 43 हजार 490, पोड़ी-उपरोड़ा अंतर्गत चार समूहों ने 36 छात्रावासों में 03 लाख 37 हजार 224 तथा कटघोरा अंतर्गत 05 महिला समूहों ने 19 छात्रावासों में 01 लाख 18 हजार 681 रूपए के राशन सामग्री हसदेव रूरल मार्ट से सप्लाई किए हैं।

      More articles

      - Advertisement -

          Latest article