Thursday, July 25, 2024

    गोठान में खरीदे गए गोबर का सही अनुपात में करे वर्मी कंपोस्ट निर्माण :कलेक्टर संजीव झा

    Must read

    सभी गोठानों में बनेंगे भंडारण कक्ष, गोठानो में पानी उपलब्धता और आजीविका संवर्धन के लिए तालाब निर्माण के प्रस्ताव भेजने के निर्देश

    गोधन न्याय योजना के सक्रिय संचालन के लिए सभी गोठानों के गोठान प्रबंधन समितियों की होगी बैठक

    कलेक्टर संजीव झा ने गौठानो के नोडल अधिकारियों की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

    कोरबा :- 01 दिसंबर 2022,कलेक्टर संजीव झा जिले में गोधन न्याय योजना के गंभीरता पूर्वक संचालन के उद्देश्य से गोठान नोडल अधिकारियों की लगातार बैठक लेकर योजना की समीक्षा कर रहे हैं। इसी कड़ी में कलेक्टर श्री झा ने आज विकासखंड पाली के गोठानों के नोडल अधिकारियों और ग्राम पंचायत सचिवों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने गोठानों में गोधन योजना के गंभीरतापूर्वक संचालन करने के निर्देश सभी अधिकारी कर्मचारियों को दिए।

    कलेक्टर ने बैठक में लगातार गोबर खरीदी करने, खरीदे गए गोबर का 40 प्रतिशत की दर से वर्मी खाद में रूपांतरण करने और सही गुणवत्ता में खाद निर्माण को बढ़ावा देने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने योजना अंतर्गत गोबर खरीदी और वर्मी खाद निर्माण को बढ़ाने के लिए सभी गोठान प्रबंधन समितियों के सदस्यों की बैठक लेने के निर्देश सभी जनपद सीईओ को दिए। कलेक्टर श्री झा ने सभी गोठानों में भंडारण कक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए। भंडारण कक्ष को खाद बीज के अलावा महिला समूह द्वारा किए जाने वाले आर्थिक गतिविधियों के आवश्यक सामग्रियों और कृषि उपकरणों को रखने के काम में लिया जाएगा। कलेक्टर ने ग्रामीण और आवर्ती चराई के गोठानों में पानी की पर्याप्त उपलब्धता और आजीविका गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए तालाब या डबरी निर्माण के प्रस्ताव भेजने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गोठान के पास तालाब बनने से गोठान के बोरवेल में पानी पर्याप्त रहेगा। साथ ही तालाब के माध्यम से महिला समूहों को मछली पालन करने का अवसर भी प्राप्त होगा।

    बैठक में सीईओ जिला पंचायत नूतन कुमार कंवर, उप संचालक कृषि अनिल शुक्ला सहित जनपद पंचायत पाली के सीईओ भूपेन्द्र सोनवानी सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे। बैठक में कलेक्टर ने पाली विकासखंड के गोठानो में गोबर से भरे टांके,टांको में केंचुआ की उपलब्धता,गोबर खरीदी,

    क्रय गोबर का खाद रूपांतरण, पंजीकृत विक्रेता और सक्रिय विक्रेता की जानकारी लेकर समीक्षा की । साथ ही खरीदे गए गोबर से वर्मी कंपोस्ट निर्माण और गौठान में किए गए व्यवस्थाओं के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय जाँच दल के द्वारा जल्द ही महत्त्वपूर्ण बिन्दुओं पर गोठानो की जांच एवं निरीक्षण की जाएगी। कलेक्टर श्री झा ने ग्राम वार गोठान की समीक्षा करते हुए गोठानो में प्रति दिन गोबर खरीदी करने वर्मी टांको में पर्याप्त मात्रा में केंचुआ डालने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देशित किया कि गोबर खरीदी खुले में न की जाये और न ही गोबर को खुले में रखा जाये। गोठानो में पंजीकृत गोबर विक्रेताओं के 50 प्रतिशत सक्रिय गोबर विक्रेता होना चाहिए। गोठान के चरवाहे का गोबर विक्रेता के रूप में पंजीयन करावें ताकि उन्हें भी गोबर बेचकर आर्थिक लाभ मिले।

        More articles

        Latest article