Saturday, June 22, 2024

नव दुर्गा उत्सव समिति द्वारा नवरात्रि के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा अर्चना कर मांगी क्षेत्र में अमन चैन की वरदान

Must read

- Advertisement -

नव दुर्गा उत्सव समिति द्वारा नवरात्रि के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा अर्चना कर मांगी क्षेत्र में अमन चैन की वरदान

कोरबा :- एनटीपीसी आवासीय परिसर इंदिरा कॉम्प्लेक्स में नव दुर्गा उत्सव समिति द्वारा नवरात्रि के चौथे दिन माता कुष्मांडा की पूजा अर्चना कर क्षेत्र की अमन चैन का वरदान मांगा।

पंडित राम शंकर पांडे ने बताया कि अश्विन माह के शुक्ल की चतुर्थी तिथि को नवरात्रि का चौथा दिन होता है। इस दिन आदि शक्ति मां भवानी के चौथे स्वरूप मां कुष्मांडा की पूजा का विधान है। नवारित्र के 9 दिन मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा की जाती है। मान्यता है कि मां कुष्मांडा की पूजा अर्चना करने से आयु, यश, बल और स्वास्थ्य में वृद्धि होती है।मां कुष्मांडा संसार को अनेक कष्टों और संकटों से मुक्ति दिलाती हैं। इस दिन लाल रंग के फूलों से पूजा करने का विधान है।मां कुष्मांडा को लाल रंग के फूल बेहद प्रिय है। मां कुष्मांडा की पूजा के बाद दुर्गा चालीसा और मां दुर्गा की आरती अवश्य करनी चाहिए।

देवी मां कूष्मांडा को पीले रंग का कमल भी बेहद पसंद है,मान्यता है कि अगर इसे मां कुष्मांडा को अर्पित किया जाए, तो साधक को अच्छे स्वास्थ का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

मां कुष्मांडा को पीला रंग बेहद प्रिय है इसलिए इस दिन मां को पीले रंग के वस्त्र, पीली चूड़ी, पीली मिठाई आदि चीजें अर्पित करने से मां जल्दी प्रसन्न होती हैं और श्रद्धालुओं का मनोकामना पूर्ण होता है।

      More articles

      - Advertisement -

          Latest article