Saturday, June 22, 2024

बिरहोर आदिवासी श्री झंगल को मिलेगा काबिज जमीन का पट्टा, बच्चों की पढ़ाई का भी हुआ इंतजाम

Must read

- Advertisement -

बरबसपुर के ग्रामीणों की समस्याओं का होगा निराकरण

सामाजिक बहिष्कार पीड़ित ग्रामीण को भी न्याय दिलाने होगी पहल

कलेक्टर संजीव झा ने जनचौपाल में आमजनों की सुनी समस्याएं, त्वरित निराकरण के दिए निर्देश

जनचौपाल में 94 आवेदन प्राप्त हुए

कोरबा :- 06 दिसंबर 2022,कलेक्टर संजीव झा ने आज कलेक्टोरेट सभा कक्ष में आयोजित जनचौपाल में आमजनों की समस्याएं सुनी और उनके त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। जनचौपाल में आज 94 लोगों ने आवेदन प्रस्तुत किए। जनचौपाल में हरदीबाजार तहसील अंतर्गत ग्राम नुनेरा निवासी बिरहोर आदिवासी श्री झंगल ने कलेक्टर श्री झा के समक्ष वन अधिकार पट्टा दिलाने के लिए आवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि वह पिछले 40 वर्षों से गांव में लगभग दो एकड़ जमीन पर किसानी करते आ रहा है। झंगल ने उसकी जमीन नाप-जोक कराकर पट्टा दिलाने की मांग की। बिरहोर आदिवासी झंगल के आवेदन को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर संजीव झा ने तहसीलदार को निर्देशित करते हुए जल्द पट्टा दिलाने के निर्देश दिए। साथ ही सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को भी निर्देशित किया कि श्री झंगल के बच्चों के आश्रम में रहने की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए शिक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए आवश्यक कार्यवाही करें। इसी प्रकार जनचौपाल में आज ग्राम बरबसपुर निवासी कुछ ग्रामीणों ने भारत माला राष्ट्रीय मार्ग परियोजना के तहत उनकी भूमि अधिग्रहण की जानकारी देते हुए अधिग्रहित भूमि के बदले उचित मुआवजा और मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए आवेदन प्रस्तुत किए। कलेक्टर श्री झा ने ग्रामीणों की इस शिकायत पर पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन अभियंता को भू-अधिग्रहण से प्रभावित लोगों की मदद के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

जनचौपाल में अपर कलेक्टर विजेंद्र पाटले, जिला पंचायत के सीईओ नूतन कंवर, डीएफओ कटघोरा प्रेमलता यादव, नगर निगम के आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर श्री शिव बनर्जी सहित सभी अनुविभागों के एसडीएम और अन्य विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।
जनचौपाल में आज बांकीमोंगरा अंतर्गत ग्राम सुमेधा निवासी दशरथ दास ने कलेक्टर के समक्ष समस्या बताई कि समाज के कुछ लोगों ने उसके परिवार का बहिष्कार कर दिया है। इसमें उसके परिवार के कुछ लोग भी शामिल हैं। समाज के लोगों ने उनकी मां के निधन के पश्चात् दशकर्म कार्यक्रम में भी शामिल नहीं होने दिया। इस मामले को भी गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर संजीव झा ने जनपद पंचायत के सीईओ को पूरे मामले की जांच कर परिवार को सामाजिक बहिष्कार से मुक्त कर समाज की मुख्य धारा में शामिल करने आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। कोरबा निवासी सुनीता प्रशांत ने अपने परिवार के भरण-पोषण व आजीविका के लिए अपने निवास में बेकरी व्यवसाय शुरू करने के लिए आर्थिक सहयोग की मांग की। कलेक्टर ने आवेदन पर संज्ञान लेते हुए सुनीता को बेकरी खोलने के लिए आवश्यक सहयोग करने के निर्देश जनचौपाल में मौजूद अधिकारियों को दिए। इसी प्रकार जनचौपाल में नागरिकों ने राशन कार्ड, पेंशन प्रकरण, फौती नामांतरण सहित अन्य शिकायतों के निराकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किए। कलेक्टर संजीव झा ने जनचौपाल में प्राप्त आवेदनों के निराकरण के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिए।

      More articles

      - Advertisement -

          Latest article