Tuesday, June 25, 2024

सघन टी.बी. एवं कुष्ठ खोज अभियान 01 दिसम्बर से 21 दिसम्बर तक

Must read

- Advertisement -

घर-घर खोजे जाएंगे कुष्ठ और टी.बी. के मरीज

कोरबा :- 30 नवंबर 2022,कुष्ठ और टी.बी. रोग को जड़ से समाप्त करने के लिए समुदाय में ऐसे मरीजों की पहचान कर उनका जांच एवं उपचार किया जाना आवश्यक है। इसी तारतम्य में जिले में टीबी एवं कुष्ठ मरीजों की पहचान के लिए सघन टीबी एवं कुष्ठ खोज अभियान चलाया जाएगा। कलेक्टर संजीव झा के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 01 दिसम्बर से 21 दिसम्बर तक सघन टी.बी. एवं कुष्ठ रोग खोज अभियान चलाया जाएगा। अभियान के दौरान मितानिनों एवं स्वास्थ्य अमलो द्वारा घर-घर भ्रमण कर टी.बी एवं कुष्ठ रोग के संभावित मरीजों की पहचान कर उनकी जांच की जाएगी। साथ ही उन्हे उपचार प्रदाय किया जाएगा। यह अभियान दो चरणो में संपादित किया जायेगा। प्रथम चरण में मितानिनों के द्वारा अपने कार्य क्षेत्र में 01 दिसम्बर से 15 दिसम्बर 2022 तक घर घर भ्रमण कर टी.बी. एवं कुष्ठ रोग के लक्षण के आधार पर संभावित मरीजों की पहचान की जायेगी। 16 दिसम्बर से 21 दिसम्बर तक उन खोजे गए लक्षण वाले मरीजों की सी.एच.ओ., आर.एच.ओ. तथा एन.एम.ए. द्वारा पुनः परीक्षण कराया जायेगा। चिन्हाकित मरीजों को सत्यापन हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भेजा जायेगा। मितानिन द्वारा गृह भेट के समय टी.बी के लक्षण वाले मरीजो को कंटेनर दिया जाएगा तथा सुबह का बलगम लेकर जांच कराने प्रा.स्वा.केन्द्रो या डी.एम.सी. जाने का सलाह दिया जाएगा।


सीएमएचओ डॉ एसएन केसरी ने बताया की मितानिन द्वारा गृह भेट के दौरान प्रत्येक सदस्यों के परीक्षण पश्चात घर के बाहरी दीवार पर गेरू या चॉक से चिन्हित किया जायेगा। गृह भेट के दौरान यदि घर बंद पाये जाते है तो घर की बाहरी दीवार पर भी इसकी जानकारी अंकित की जायेगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.केसरी ने बताया कि इस अभियान के दौरान प्रत्येक टी.बी /कुष्ठ के संभावित मरीजों की पहचान कर उनकी जांच एवं उपचार किया जावेगा। इस हेतु प्रत्येक स्तर पर प्रशिक्षण पूरा किया जा चुका है। उन्होने कहा की जिन व्यक्तियो को एक सप्ताह से ज्यादा खासी/बलगम में खून आना / दो सप्ताह से ज्यादा बुखार वजन कम हो रहा है, वे अपने सुबह का बलगम निकटतम पी.एच.सी./डी.एम.सी. में जांच करावे तथा जिन व्यक्तियो के चमडी पर दाग चकते जिससे सुनपन हो, घाव जो भर नही रहे हो ,भौघ के उपर ढुढी या कानो में गठाने, सूजन तथा मोटा पन में झुनझनी सुन्नपन हो वे नजदीक की स्वास्थ्य केन्द्र जाकर अपनी जांच करावे तथा उपचार प्राप्त करे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा नोडल अधिकारी(कुष्ठ और टी.बी.) जिले के प्रभारी,विकासखण्डों में खण्ड चिकित्सा अधिकारी प्रभारी रहेगें।2 जनवरी से 17 जनवरी 2023 तक सभी निजी चिकित्सालयों ,नर्सिग होम, प्रायवेट प्रैक्टिसनरों, व केमिस्ट टी.बी कुष्ठ के चिन्हांकित संदेहास्पद मरीजों की दैनिक सूची प्रदान करेगें। इन चिन्हांकित मरीजों की सूची टी.बी कुष्ठ के पोर्टल में इन्द्राज होगा। यदि किसी मरीज को जांच की आवष्यकता है तो निःशुल्क जांच हेतु सैम्पल एकत्र कर निकटतम प्रा.स्वा. केन्द्र भेजेगें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों का निर्देशित किया है की सर्वे के दौरान मितानिन घर के प्रत्येक सदस्यों की जांच करे तथा उनकी लाईन लिस्ट बनावे। सुपरवाईजर मितानिनों के द्वारा सर्वे किए गए घरों की मॉनिटरिंग करे। उन्होने कार्यक्रम के सफल संचालन के लिए नियमित मॉनिटरिंग तथा शासन के दिशा निर्देशों के अनुसार कार्य करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अमलो को दिए है

      More articles

      - Advertisement -

          Latest article