Friday, June 14, 2024

छात्रों के जाति प्रमाण पत्र बनाने के कार्य में लायें तेजी: कलेक्टर संजीव झा

Must read

- Advertisement -

वन अधिकार पत्रों के लंबित आवेदनों का निराकरण प्राथमिकता से किये जायें

शिविर के माध्यम से बिजली बिल से संबंधित समस्याओं का किया जाए निराकरण

बिलासपुर एवं सरगुजा संभाग के जिलों के ब्रिक्स प्लांटों में भी किया जाएगा फ्लाई एश का सप्लाई

कलेक्टर संजीव झा ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

कोरबा :- 27 दिसंबर 2022,कलेक्टर संजीव झा ने आज समय सीमा की समीक्षा बैठक में स्कूली छात्र-छात्राओं के बनाये जा रहे जाति प्रमाण पत्रों के प्रगति की जनपद वार समीक्षा की। उन्होंने जाति प्रमाण पत्र बनाने की गति में तेजी लाते हुए 31 दिसंबर तक प्रमाण पत्र बनाने के कार्य को पूर्ण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि इस कार्य को गंभीरता से लेते हुए सभी आवश्यक दस्तावेज सहित 31दिसंबर तक अनुविभागीय अधिकारियों के पास ऑनलाइन भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों से विकासखण्डवार प्रमाण पत्र बनाने की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली।

कलेक्टर ने प्रमाण पत्र बनाने की धीमी प्रगति पर नाराजगी जताते हुए पाली के एबीईओ मनीराम मरकाम को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में सामुदायिक वन संसाधन अधिकार पत्र के लंबित आवेदनों की भी जानकारी ली। उन्होंने विकासखण्डवार लंबित आवेदनों की जानकारी लेकर तेजी से आवेदनों के निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने ग्राम पंचायत सचिव, बीटगार्ड एवं सरपंचों से लंबित आवेदनों की सूची लेकर ग्राम सभा के माध्यम से सत्यापन कराकर वन अधिकार पत्रों के आवेदनों का निराकरण करने के निर्देश दिए। साथ ही इस कार्य की लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश आदिवासी विभाग एवं अन्य विभागीय अधिकारी को दिए।

समय सीमा की समीक्षा बैठक में अपर कलेक्टर प्रदीप साहू, जिला पंचायत के सीईओ नूतन कंवर, नगर निगम के आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर शिव बनर्जी सहित अन्य विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।
कलेक्टर श्री झा ने समीक्षा बैठक में विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिजली बिल से संबंधित समस्याओं के निराकरण के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में शिविर आयोजित किया जाए। शिविरों के आयोजन से संबंधित पर्याप्त प्रचार-प्रसार, मुनादी आदि करायी जाए। साथ ही जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में शिविरों का आयोजन किया जाए। कलेक्टर श्री झा ने बैठक में जिले में पावर प्लाण्टों में उत्पादित फ्लाई एश के सुनियोजित निराकरण के लिए बिलासपुर और सरगुजा संभाग के जिलों में स्थित ब्रिक प्लांटों में भी सप्लाई करने के निर्देश क्षेत्रिय पर्यावरण अधिकारी को दिए। उन्होंने जिले से 200 किमी तक की दूरी में स्थित सभी फ्लाई एश ब्रिक्स प्लांटों की मैपिंग कर फ्लाई एश सप्लाई करने के निर्देश दिए। साथ ही फ्लाईएश सप्लाई के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी करने के निर्देश दिए। टोल फ्री नंबर के माध्यम से जरूरत होने पर संबंधित फर्म कॉल करके फ्लाई एश मंगा सकेंगे। फ्लाईएश की सप्लाई संबंधित पावर प्लांट द्वारा की जाएगी। बैठक में कलेक्टर ने जनपद पंचायत कोरबा, कटघोरा, करतला, पोड़ीउपरोड़ा को निर्देशित किया कि राजीव युवा मितान क्लब के पदाधिकारियों का युवा मितान क्लब पोर्टल में ऑनलाइन एंट्री से संबंधित प्रशिक्षण शीघ्र करायें। पोर्टल में क्लब द्वारा संचालित गतिविधियों को अपलोड किया जाएगा। कलेक्टर ने बैठक में कहा कि जनपद पंचायत करतला एवं पोड़ीउपरोड़ा में स्वामी आत्मानंद स्कूल के निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। उन्होंने जिले में हो रही धान खरीदी की अद्यतन स्थिति तथा खरीदी केंद्रों में बारदाने की उपलब्धता की भी जानकारी ली। कलेक्टर श्री झा ने महिला स्वसहायता समूहों द्वारा निर्मित, उत्पादित सामग्री की सप्लाई आश्रम-छात्रावास, स्कूल और स्वास्थ्य केंद्रों में करने के उद्देश्य से स्वसहायता समूहों को स्कूल, आश्रम-छात्रावासों से लिंक करने के निर्देश डीपीएम राष्ट्रीय आजीविका मिशन को दिए। उन्होंने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि कहीं भी खुले में गोबर खरीदी न की जाए। गोबर का सुरक्षित भण्डारण किया जाए। गौठानों में वर्मी टांकों में पर्याप्त केंचुआ डाले जाएं। केंचुआ की सुरक्षा हेतु वर्मी टांको के नीचे की ओर नाली निर्माण अवश्य कराया जाए। सभी गौठानों में क्रय गोबर का खाद्य रूपांतरण 40 प्रतिशत होना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी गौठानों में आगामी जून माह तक पशुओं की चारे की व्यवस्था हेतु ज्यादा से ज्यादा पैरादान किया जाए। पैरादान के लिए जनपद पंचायत सीईओ के द्वारा गौठानवार पैरादान की समीक्षा की जाए। कलेक्टर श्री झा ने गौठानों में पैरा सुव्यवस्थित तरीके से पैरावट के रूप में संग्रहित करने तथा गौठानों में स्वीकृत नये वर्मी टांको का निर्माण कार्य भी शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए।

    More articles

    - Advertisement -

      Latest article