Friday, June 14, 2024

कलेक्टर संजीव झा की विशेष पहल से जिले के 10 विद्यार्थी सिपेट में ले रहे तकनीकी शिक्षा

Must read

- Advertisement -

जिला प्रशासन द्वारा वहन किया जा रहा इन विद्यार्थियों का प्रशिक्षण शुल्क

प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात् न्यूनतम 20 हजार रूपए प्रतिमाह का मिल सकेगा रोजगार

कोरबा :- 22 दिसंबर 2022,कलेक्टर संजीव झा ने जिले के गरीब और जरूरतमंद विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा दिलाने के लिए विशेष पहल की। उन्होंने खराब आर्थिक स्थिति के कारण आगे की पढ़ाई कर पाने में असमर्थ गरीब बच्चों को रोजगार और स्वरोजगार से जोड़ने के लिए बड़ी संवेदनशीलता दिखाई। कलेक्टर श्री झा की इस विशेष पहल से जिले के 10 गरीब और जरूरतमंद विद्यार्थी सिपेट में तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। इन विद्यार्थियों का प्रशिक्षण शुल्क जिला प्रशासन द्वारा वहन किया जा रहा है। प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात् इन विद्यार्थियों को कैम्पस प्लेसमेंट के द्वारा न्यूनतम 20 हजार रूपए प्रतिमाह का रोजगार बड़ी कंपनियों में प्राप्त हो सकेगा। जिला प्रशासन की मदद से सिपेट में पढ़ाई करने वाले 10 विद्यार्थियों को कलेक्टर द्वारा नामित किया गया है। इन विद्यार्थियों में तीन बच्चे ऐसे हैं, जिनके माता-पिता कोविड के कारण इस दुनिया में अब नहीं हैं। तीन विद्यार्थी गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले परिवार से संबंधित हैं। इन 10 विद्यार्थियों में महिला बालगृह के चार छात्राएं भी शामिल हैं। कलेक्टर की इस पहल से अपने पैर पर खड़े होने के इच्छुक कमजोर आर्थिक स्थिति वाले गरीब छात्रों को तकनीकी पाठ्यक्रम में प्रवेश मिलेगा। तकनीकी पढ़ाई पूरी करके विद्यार्थी कैम्पस प्लेसमेंट के माध्यम से बड़ी कंपनियों में रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।

लाइवलीहुड कॉलेज के प्राचार्य ने बताया कि कलेक्टर श्री झा द्वारा जिले के विभिन्न स्थानों के 06 तथा महिला बालगृह के 04 जरुरतमंद छात्र-छात्राओं को सिपेट कोरबा में तकनीकी प्रशिक्षण हेतु संचालित डिप्लोमा पाठ्यक्रम के लिए नामित किया गया। जिनके प्रशिक्षण का शुल्क जिला प्रशासन द्वारा वहन किया जायेगा। सिपेट में संचालित इन डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में छात्रों को प्लास्टिक उत्पादों हेतु लगने वाले डिजाइन, मोल्ड मेकिंग तथा प्रसंस्करण के बारे में विस्तृृत प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। प्रशिक्षण के उपरांत छात्र सिपेट द्वारा आयोजित कैम्पस प्लेसमेंट के माध्यम से रोजगार प्राप्त करते हैं। कुछ छात्र अपने स्वयं का व्यवसाय सिपेट में उपलब्ध मशीनों के माध्यम से कर सकते हैं। पूर्व में सिपेट से उत्तीर्ण अल्प कालीन एवं दीर्घ कालीन पाठ्यक्रम के छात्र-छात्राओं ने देश में स्थित विभिन्न राष्ट्रीय एवं बहुराष्ट्रीय कंपनीयों में सिपेट के सहयोग से रोजगार प्राप्त किया है। इन कंपनियों में मेसर्स रोंच पॉलिमर, पुणे, मे. ताकाहटा, राजस्थान, मे. डाक्टर पैक, बेंगलार, मे. मदर्सन, बेंगलोर, मे. फाइन टूल्स, बंेगलोर, मे. टाटा आटोकॉम्प, पुणे, मे. ल्यूमेक्स, बेंगलोर, मे. याजाकी, भिवाड़ी, में. पॉलीरब, पुणे तथा मे. अजय इंडस्ट्रियल, पुणे आदि शामिल हैं।

    More articles

    - Advertisement -

      Latest article